आमतौर पर हम दशहरा में रामलीला होने की बात जानते हैं लेकिन विदिशा में मकर संक्राति से रामलीला शुरू होती है। नवरात्रि के समापन के साथ दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन , चल समारोह, ओर विजयादशमी मनाया जाता है। विजयादशमी का चल समारोह देर रात तक निकाले जाते है।